क्या लाइव वीडियो बैकारेट विश्वसनीय है?

क्या लाइव वीडियो बैकारेट विश्वसनीय है?

time:2021-10-16 04:02:42 पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी Views:4591

स्लॉट मशीन समाचार क्या लाइव वीडियो बैकारेट विश्वसनीय है? 10cric रूले,casumo जुआ,लियोवेगास साइन इन,lovebet सिनेमा,lovebet काम नहीं कर रहा है,lovebet जाम्बिया संपर्क नंबर,क्या ऑनलाइन बैकारेट गेम विश्वसनीय हैं,बैकारेट फ्रेंचाइजी,बैकारेट फूलदान बिक्री,भारत में कानूनी सट्टेबाजी,कैसीनो बी-बेट्स,कैसीनो वैंकूवर,क्लासिक रम्मी साइन अप कूपन कोड,क्रिकेट किट बैग,ई खेल क्षेत्र,विकास गेमिंग,फ़ुटबॉल ऑड्स सॉफ़्टवेयर,उत्पत्ति कैसीनो पंटा काना,बैकारेट ने कितना पैसा गंवाया,आईपीएल नया शेड्यूल,जैकपॉट यूएसए,लाइव लाठी टेबल,लॉटरी 06 2021,लॉटरी ज़ाबी,एनबीए क्लिपर्स बनाम ग्रिज़लीज़,पेपैल के साथ ऑनलाइन कैसीनो,ऑनलाइन पोकर कोस्टेनलोस एमआईटी फ्रींडन,पारिमैच इतिहास,3 . में पोकर,रियल कैश नेटवर्क,नियम हैमिल्टन,रम्मी वेरिएंट प्रश्नावली,स्लॉट मशीन कुंजी,खेल 650,स्पोर्ट्सबुक जॉब माल्टा,टेक्सास होल्डम मेंस,शीर्ष दस प्रतिष्ठित गेमिंग कंपनियां,यूरोपीय कप में आज रात फुटबॉल के लिए क्या खरीदें,एक्स पोकर APK,ऊंची स्टेटस,क्रिकेट buzz स्कोर,गोवा घूमने की जगह बताएं,ड्रैगन का शिकार,फुटबॉल हटेगी तू पापलीन दे,बेटा विवाह गीत,लॉटरी निकाल, .पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी

कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है.
कोलकाता : पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस अपने 5-7 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है. कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है. इस तरह पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस भी उन कंपनियों में शामिल हो गई है जिन्‍होंने पिछले छह महीनों में अपने कर्मचारियों की संख्‍या घटाई है.

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

इसे भी पढ़ें : पुराने कर्मचारियों को नौकरी पर बुला रही हैं आईटी कंपनियां

मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि कंपनी ने 80-100 लोगों को इस्‍तीफा देने के लिए कहा है. कर्ज देने वाली इस कंपनी का मार्केटकैप 4,863 करोड़ रुपये का है. इस पर 68 हजार करोड़ रुपये का लोन बकाया है. छंटनी से पहले देश के विभिन्न राज्‍यों में इसके 1500 कर्मचारी थे.

इस मामले पर ईटी के सवाल के जवाब में कंपनी ने कहा, ''हम अपने संसाधनों को दोबारा एलोकेट करने की प्रक्रिया में हैं. इसका मकसद पीएनबी हाउसिंग को सतत ग्रोथ की राह पर ले जाना है. इन कोशिशों में बहुत मुश्किल फैसले लेने पड़ रहे हैं. कार्यबल में सीमित संख्‍या में बदलाव भी इसका हिस्‍सा है. हालांकि, बताई गई संख्‍या सही नहीं है. यह बढ़ाचढ़ाकर दिखाई गई है.''

इसे भी पढ़ें : दो साल में इन 8 क्षेत्रों में होंगे नौकरी के खूब मौके

क्‍या कंपनी ने अपने सीनियर मैनेजमेंट को सालाना बोनस और इंक्रीमेंट दिया है, इस सवाल के जवाब में पीएनबी हाउसिंग ने कहा, ''कोरोना की महामारी से उपजी असाधारण स्थितियों के चलते कंपनी पहली तिमाही में ऐसा कर पाने में असमर्थ थी. अभी इसकी समीक्षा की जा रही है. समय के साथ इसके बारे में एलान किया जाएगा.''

पूंजी की कमी के चलते कंपनी का कारोबार पिछले साल से ही घटना शुरू हो गया था. जून तिमाही में डिस्‍बर्समेंट (लोन वितरण) 91 फीसदी घटकर 694 करोड़ रुपये रह गया. पिछले साल की इसी अवधि में यह 7,634 करोड़ रुपये था.

32.7 फीसदी होल्डिंग के साथ पीएनबी इस कंपनी की प्रमोटर है. उसने बीते महीने मॉर्गेज लोन देने वाली कंपनी में 600 करोड़ रुपये की पूंजी डालने का एलान किया था. कंपनी तरजीही आवंटन या शेयरों के राइट्स इश्‍यू के जरिये भी 1800 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने के बारे में विचार कर रही है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंसकर्मचारियों की छंटनीकोरोना की महामारीपीएनबीछंटनी

ETPrime stories of the day

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you
Cryptocurrency

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you

15 mins read
Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?
Markets

Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?

8 mins read
People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?
Banking

People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?

12 mins read

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने शुक्रवार को संकेत दिए कि कमोडिटी के कीमतों में आई तेजी के चलते आने वाले कुछ महीनों में वह अपने वाहनों की कीमत बढ़ा सकती है.जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.अच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स

जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.पेटीएम के सीएचआरओ रोहित ठाकुर ने ईटी को बताया कि पिछले तीन से चार महीनों में कंपनी ने करीब 700 लोगों की भर्ती की है. इन्‍हें ऑनलाइन रिक्रूट किया गया है.अप्रैल से टोयोटा की गाड़‍ियां होंगी महंगी, दाम बढ़ाने का यह कारण बताया

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.कारें होंगी महंगी, जानिए कितनी बढ़ेंगी कीमतें

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
क्रिकेट रिकॉर्ड हिंदी में

पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.

बैटरी

क्‍या इस वैलेंटाइन डे पर अपने पाटर्नर को खुश करने के लिए आपने गिफ्ट सेलेक्‍ट कर लिया है? नहीं, तो यहां हम आपको ट्रेडिशनल गिफ्ट से अलग हटकर कुछ ऐसे तोहफों के बारे में बता रहे हैं जो शायद आपके साथी को खूब पसंद आए.

एस्पोर्ट्स टूर्नामेंट सिंगापुर 2021

फास्टैग इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है. इसमें रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआईडी) का इस्तेमाल होता है. इस टैग को वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है.

दोस्तों के साथ ऑनलाइन रमी

सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.

जमींदारों से लड़ते हुए लाइव-एक्शन वीडियो

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी